इरफान की डायरी: बाबिल को पिता इरफान खान की अलमारी से मिली नोटबुक, बोले-इसमें बाबा ने मेरे लिए एक्टिंग पर नोट्स लिखे थे; मुझे लगता है कि वे फिल्म स्कूल के बाद मुझे पढ़ाने वाले थे

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

12 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

दिग्गज दिवंगत एक्टर इरफान खान के बेटे बाबिल आए दिन अपने पिता की याद में सोशल मीडिया पर कुछ ना कुछ फैंस के साथ शेयर करते रहते हैं। अब हाल ही में बाबिल ने इरफान खान की एक डायरी का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया है। इस डायरी में इरफान एक्टिंग नोट्स लिखकर अपने बेटे बाबिल के लिए छोड़कर गए हैं। बाबिल अपने पिता के नक्शेकदम पर ही चल रहे हैं। वे जल्द ही बॉलीवुड में डेब्यू भी करेंगे। इसके लिए बाबिल लंदन के फिल्म स्कूल से ग्रेजुएशन भी कर रहे हैं।

बाबा मेरे लिए इस नोटबुक में एक्टिंग पर नोट्स लिख रहे थे
इरफान की इस डायरी के वीडियो को शेयर करते हुए बाबिल ने लिखा, “मुझे अभी बाबा की अलमारी से यह बुक मिली है। जो मैंने उन्हें तब दी थी, जब मैं 12 साल का था। वे मेरे लिए इस नोटबुक में एक्टिंग पर नोट्स लिख रहे थे। मुझे लगता है कि मेरा फिल्म स्कूल खत्म होने के बाद वे मुझे पढ़ाना चाहते थे। इसलिए मेरा मानना है कि अभी मुझे खजाना हाथ लग गया है।”

बुक के अंदर के कुछ पेज दिखाते हुए बाबिल ने लिखा, “मैं आपके साथ पहले कुछ नोट्स शेयर कर रहा हूं। क्योंकि मैं चाहता हूं कि आप मुझे अच्छा आदमी समझें।” बुक से 4 प्वाइंट्स बताते हुए उन्होंने आगे लिखा, अगर इसमें आपको कुछ चीजें समझ नहीं आई हैं, तो मैं अपने क्लब में आपका स्वागत करता हूं। क्योंकि बहुत सारी चीजें हैं, जो मुझे भी समझ नहीं आई हैं और मैं अब उनसे पूछ भी नहीं सकता हूं।”

पिछले साल हुआ था इरफान का निधन
बता दें कि, इरफान खान का पिछले साल 29 अप्रैल 2020 को मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में 53 साल की उम्र में निधन हो गया था। तब उन्हें एक दिन पहले कोलन इंफेक्शन के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इरफान दो साल से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से भी जूझ रहे थे।

इरफान खान की चुनिंदा फिल्में और सम्मान
इरफान खान ने 2019 में बीमारी से ठीक होने के बाद अंग्रेजी मीडियम की शूटिंग की थी, यह फिल्म मार्च 2020 में रिलीज हुई थी। जिसमें करीना कपूर, दीपक डोबरियाल, राधिका मदान भी लीड रोल में थीं। इरफान ने ‘मकबूल’, ‘लाइफ इन अ मेट्रो’, ‘द लंच बॉक्स’, ‘पीकू’, ‘तलवार’ और ‘हिंदी मीडियम’ जैसी शानदार फिल्मों में भी काम किया है। उन्हें ‘हासिल’ (निगेटिव रोल), ‘लाइफ इन अ मेट्रो’ (बेस्ट एक्टर), ‘पान सिंह तोमर’ (बेस्ट एक्टर क्रिटिक) और ‘हिंदी मीडियम’ (बेस्ट एक्टर) के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला था। ‘पान सिंह तोमर’ के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड दिया गया था। कला के क्षेत्र में उन्हें देश का चौथा सबसे बड़ा सम्मान पद्मश्री भी मिला था।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *