एंटीलिया केस: रात में सचिन वझे को लेकर CST स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 4 और 5 पर पहुंची NIA की टीम, सीन रीक्रिएट किया

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई2 घंटे पहलेलेखक: राजेश गाबा

  • कॉपी लिंक

CST रेलवे स्टेशन पर NIA की टीम CCTV फुटेज के साथ ही सबूतों को पुख्ता करने के लिए वझे को प्लेटफार्म नंबर प्लेटफॉर्म 4 और 5 ले गई।

एंटीलिया केस में आरोपी मुंबई पुलिस के सस्पेंड API सचिन वझे को लेकर NIA की टीम सोमवार देर रात मुंबई के सीएसटी रेलवे स्टेशन पर पहुंची। यहां NIA की टीम ने सीन रीक्रिएट किया और सीसीटीवी फुटेज के साथ ही एविडेंस को पुख्ता करने के लिए वझे को प्लेटफार्म नंबर प्लेटफॉर्म 4 और 5 ले गई। यहां रेड टेपिंग करके सचिन वझे को चलाकर सीन रिक्रिएट किया गया। इससे सीसीटीवी एविडेंस को क्रॉस वेरिफाई किया जा सके।

इस दौरान फॉरेंसिक की टीम भी मौजूद रही। यहां पूरी प्रक्रिया करने के बाद टीम सचिन वझे को गाड़ी में बैठाकर वापस निकल गई। NIA को स्टेशन के पास दिखे एक व्यक्ति के सचिन वझे होने का शक है। जिसके चलते टीम ने स्टेशन पहुंचकर सीन को रीक्रिएट किया। इस मामले में एक बार फिर से बड़ा खुलासा होने की संभावना जताई जा रही है।

NIA को स्टेशन के पास दिखे एक व्यक्ति के सचिन वझे होने का शक है।

NIA को स्टेशन के पास दिखे एक व्यक्ति के सचिन वझे होने का शक है।

वझे के वसूली कारोबार में बड़े अफसर भी हिस्सेदार
एंटीलिया और मनसुख हिरेन मर्डर केस की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को कई नए सबूत मिले हैं। ये सबूत सचिन वझे के वसूली कारोबार से जुड़े हैं। NIA के मुताबिक वसूली के कारोबार में पुलिस और प्रशासन के कुछ टॉप अफसर भी शामिल थे। वझे ने इन अफसरों को पेमेंट किया था और इस भुगतान के दस्तावेज NIA को मिले हैं। गिरगांव स्थित एक क्लब पर छापे के दौरान ये सबूत NIA के हाथ लगे।

7 अप्रैल तक बढ़ी सचिन वझे की कस्टडी
सचिन वझे की कस्टडी 7 अप्रैल तक बढ़ा दी गई है। स्पेशल कोर्ट ने NIA को निर्देश दिए हैं कि वझे को हर तरह की मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराई जाए। स्पेशल कोर्ट ने जांच एजेंसी को निर्देश दिया कि 7 अप्रैल को अगली पेशी के दौरान वह वझे के स्वास्थ्य और उनकी बीमारियों पर डीटेल्ड रिपोर्ट पेश करे।

इससे पहले, सचिन वझे के वकील रौनक नाईक ने अदालत को एक एप्लीकेशन लिखी थी। इसमें उन्होंने कहा कि वझे को सीने में दर्द के साथ-साथ हार्ट में 90% के दो ब्लॉकेज हैं। ऐसी हालत में वझे को उनके कार्डियोलॉजिस्ट से मिलवाया जाए, ताकि उनका मेडिकल ट्रीटमेंट शुरू हो सके।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *