किसान आंदोलन: 26 जनवरी को लाल किले के गुम्बद पर चढ़ने वाला जसप्रीत गिरफ्तार, मुजफ्फरनगर में भिड़े किसान और भाजपा कार्यकर्ता

  • Hindi News
  • National
  • Farmers Protest (Kisan Andolan) Republic Day Violence; Jaspreet Singh Arrested | Delhi Police Latest News

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
फोटो 26 जनवरी की है। ट्रैक्टर परेड के दौरान हजारों किसानों ने लाल किले में घुसकर हिंसा की थी। कुछ किसान हथियार, रॉड और झंडे लेकर गुम्बद पर भी चढ़ गए थे। - Dainik Bhaskar

फोटो 26 जनवरी की है। ट्रैक्टर परेड के दौरान हजारों किसानों ने लाल किले में घुसकर हिंसा की थी। कुछ किसान हथियार, रॉड और झंडे लेकर गुम्बद पर भी चढ़ गए थे।

26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के दौरान लालकिले पर हुई हिंसा के सिलसिले में पुलिस ने एक और गिरफ्तारी की है। दिल्ली पुलिस ने सोमवार को जसप्रीत सिंह को गिरफ्तार किया है। उस पर हिंसा के दौरान लाल किले के गुम्बद पर चढ़ने का आरोप है। इस दौरान उसने स्टील की रॉड उठा रखी थी।

जसप्रीत सिंह दिल्ली का रहने वाला है।

जसप्रीत सिंह दिल्ली का रहने वाला है।

26 जनवरी के ट्रैक्टर मार्च से 16 किसान लापता
इससे पहले किसान नेताओं का दावा किया था कि 26 जनवरी के ट्रैक्टर मार्च में शामिल 16 किसान अब भी लापता हैं। जबकि, करीब 122 किसानों को गिरफ्तार किया जा चुका है। किसान नेताओं ने मामले की सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के रिटायर जज से जांच कराने की मांग भी की थी।

मुजफ्फरनगर में झड़प के दौरान कई किसान घायल

मुजफ्फरनगर में भाजपा कार्यकर्ता और किसानों के बीच झड़प हो गई है। राष्ट्रीय लोकदल के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने इस घटना की तस्वीरें शेयर की हैं। उन्होंने कहा कि कई किसानों को चोट आई हैं। सरकार किसानों की पक्ष की बात न करे, पर उनकी इज्जत तो करे।

जयंत चौधरी ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक फोटो शेयर की है। तस्वीर में दिख रहे युवक को उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं से हुई झड़प में घायल किसान बताया है।

जयंत चौधरी ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक फोटो शेयर की है। तस्वीर में दिख रहे युवक को उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं से हुई झड़प में घायल किसान बताया है।

बालियान समर्थकों पर मारपीट का आरोप
मुजफ्फरनगर के शोरम गांव में भाजपा के मंत्री संजीव बालियान के समर्थकों और ग्रामीणों के बीच जमकर मारपीट हुई। मामला उस वक्त का है, जब बालियान का काफिला एक तेरहवीं कार्यक्रम में पहुंचा था। तभी जय जवान-जय किसान और भाजपा विरोधी नारे लगने लगे। जानकारी के मुताबिक, दोनों ओर से हुई पत्थरबाजी और मारपीट में दर्जनों लोग घायल हुए हैं।

ग्रामीणों का आरोप है कि भाजपा सांसद के साथ आए युवकों ने लाठी-डंडों से गांव के युवकों को मारा। जब जान बचाकर युवक एक घर में घुसे, तो उन्होंने घर का गेट तोड़ दिया और घर में मौजूद महिलाओं के साथ अभद्रता की।

ग्रामीणों ने थाने का घेराव किया
इसके बाद गांव में ऐतिहासिक चौपाल पर पंचायत लगाई गई। इस दौरान लोगों ने घटना के खिलाफ विरोध दर्ज कराया। पंचायत के बाद ग्रामीण शाहपुर थाने पहुंचे। उन्होंने बालियान और उनके समर्थकों गिरफ्तारी की मांग को लेकर थाने का घेराव भी किया। मौके पर RLD के समर्थक और सैकड़ों ग्रामीण मौजूद हैं।

23 से 27 फरवरी तक कई कार्यक्रम करेंगे किसान
नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली बॉर्डर पर 89 दिन से प्रदर्शन कर रहे हैं। आंदोलन में जान फूंकने के लिए किसानों ने इस हफ्ते के लिए नई रणनीति तैयार की है। इस दौरान किसान अलग-अलग कार्यक्रमों का आयोजन करेंगे। संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) के मुताबिक, किसान पगड़ी संभाल दिवस, दमन विरोधी दिवस, युवा किसान दिवस और मजदूर किसान एकता दिवस मनाएंगे। ये कार्यक्रम 23 से 27 फरवरी तक आयोजित किए जाएंगे।

किसान लंबे समय तक टिकने की तैयारी में जुटे
कड़ाके की ठंड झेलने के बाद आंदोलनकारी किसान अब गर्मियों के मौसम को देखते हुए तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने टेंट्स में पंखे लगवाना शुरू कर दिए हैं। साथ ही टेंट की ऊंचाई बढ़ाकर उसके अंदर एक और टेंट लगा रहे हैं ताकि गर्मी से बच सकें। इसके साथ ही धरनास्थलों पर AC लगी ट्रॉलियां भी नजर आ रही हैं। किसान नेता राकेश टिकैत कह चुके हैं कि आंदोलन कम से कम अक्टूबर तक चलेगा।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *