केरल का बेपोर बीच: यहां 12वीं सदी से रईसों के लिए लकड़ी की लग्जरी नावें बनती हैं, कीमत 12 करोेड़

  • Hindi News
  • National
  • Here Luxury Wooden Boats Are Made For The Nobles From The 12th Century, Worth 12 Crores

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

के.ए. शाजी | कोझिकोड13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

130 फीट लंबे और 33 फीट चौड़े इस पोत की कीमत करीब12 करोड़ रुपए है। (फोटोः पी मुस्तफा )

तस्वीर केरल के बेपोर बीच में अरब देशों के रईसों के लिए तैयार हो रहे लकड़ी के जहाज की है। 130 फीट लंबे और 33 फीट चौड़े इस पोत की कीमत करीब12 करोड़ रुपए है। इनका इस्तेमाल अरब के रईस स्टेटस सिंबल के तौर पर करते हैं और गल्फ देशों का सफर इसी जहाज से करना पसंद करते हैं। यहां ऐसे दो जहाज 2021 में बनकर तैयार हो जाएंगे। इन्हें कतर के युसूफ अहमद अमानी की तरफ से ऑर्डर मिला है।

यहां 12वीं सदी से विशालकाय जहाज बनाकर अरब बेचे जाते रहे हैं

  • शिप के प्रमुख कारीगर पी. श्रीधरन बताते हैं कि मलेशियाई सागौन, बेन सागौन और केविला लकड़ी से यह शिप बनाया जाता है।
  • 10 कर्मचारी अभी इस जहाज को तय समय में बनाने में जुटे हुए हैं। इनकी मदद के लिए 25 से अधिक मजदूर भी जल्द जुड़ेंगे।
  • यहां समुुद्र मार्ग से मेसोपोटामिया तक व्यापार होता रहा है। विशालकाय बोट का व्यापार 12वीं सदी से लगातार हो रहा है।
  • यहां कई ऐसे लोग भी हैं, जो सदियों पहले यमन से केरल शिफ्ट हो गए थे। आज ये लोग लकड़ी के जहाज बनाने के बिजनेस से जुड़े हैं।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *