केरल में BJP बनाम CPI: गृहमंत्री शाह के CAA लागू करने के ऐलान पर केरल के CM पिनाराई का पलटवार; कहा- राज्य में नहीं लागू होने दूंगा कानून

  • Hindi News
  • National
  • Reaction Of CM Pinarai Of Kerala On Home Minister Shah’s Announcement To Implement CAA; Said Law Will Not Be Implemented In The State

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

केरल में अभी CPI(M) की सरकार है। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन पहले भी CAA को राज्य में लागू करने से मना कर चुके हैं।

गृह मंत्री अमित शाह पर केरल के सीएम पिनाराई विजयन ने पलटवार किया है। विजयन ने कहा कि वह अपने राज्य में नागरिकता कानून (CAA) लागू नहीं करेंगे। मीडिया से विजयन ने कहा, ‘कुछ लोगों ने नागरिकता कानून के बारे में बात करना शुरू कर दिया है। केंद्रीय गृहमंत्री कह रहे हैं कि टीकाकरण खत्म होने के बाद CAA को जमीन पर उतारने का काम शुरू किया जाएगा। हमने पहले भी इस पर अपना रुख साफ कर दिया था और एक बार फिर कह रहे हैं कि केरल में इसे लागू नहीं करेंगे।’ दो दिन पहले यानी गुरुवार को ही गृह मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल में एक सभा को संबोधित करते हुए CAA लागू करने का ऐलान किया था।

शाह ने कहा था, वैक्सीनेशन के बाद लागू करेंगे
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि, कोरोना के वैक्सीनेशन के बाद देश में नागरिकता कानून को जमीन पर उतारा जाएगा। शाह ने कहा, केंद्र की मोदी सरकार पड़ोसी देशों के धार्मिक अल्पसंख्यकों का ध्यान रखते हुए नागरिकता कानून लाई थी। मैं बताना चाहता हूं कि जैसे ही कोविड टीकाकरण की प्रक्रिया समाप्त होगी, CAA के तहत नागरिकता देने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

अमित शाह ने कहा कि ममता बनर्जी ने लगातार सीएए का विरोध किया है। वो कहती हैं कि वह इसे कभी पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने देंगी लेकिन मैं भरोसा दिलाता हूं कि शरणार्थियों को नागरिकता मिलेगी। मतुआ समुदाय को संबोधित करते हुए शाह ने ये कहा। मतुआ समुदाय वो हिन्दू शरणार्थी हैं, जो बांग्लादेश से आकर यहां बसे हैं।

केरल में इसी साल होने हैं चुनाव
देश में केरल समेत 5 राज्यों में इसी साल चुनाव होने हैं। ऐसे में लगभग हर राज्य में भाजपा मजबूती से विपक्षी दलों को टक्कर दे रही है। केरल में अभी CPI(M) की सरकार है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी यहीं से सांसद हैं। ऐसे में भाजपा ने केरल में भी कांग्रेस और सीपीआई को कड़ी टक्कर देने का प्लान बनाया है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *