तस्वीरों में अमेरिकी हिंसा: लाल टोपी, नीले झंडों के साथ पहुंचे थे फसाद करने वाले ट्रम्प समर्थक, किसी का सिर फूटा तो कोई दीवार से गिरा

  • Hindi News
  • International
  • Donald Trump Joe Biden| Donald Trump Supporters Protest In US Capitol Hill Washington Joe Biden Elections Photo Story

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वॉशिंगटन4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों का बुधवार को ऐलान होना था। इससे पहले ही अमेरिकी संसद भवन (यूएस कैपिटल हिल) के सामने ट्रम्प के हजारों समर्थकों जुट गए। वे चुनाव नतीजों को रद्द करने की मांग कर रहे थे। उनका आरोप है कि इन चुनावों में धांधली हुई हे। ट्रम्प के ज्यादातर समर्थक लाल टोपी और नीले कपड़ों में पहुंचे थे। ये दो रंग ट्रम्प की रिपब्लिकन पार्टी के झंडे के रंग हैं। हिंसा करने वालों के हाथों में नीले बैनर थे, जिन पर लिखा था- KEEP AMERICA GREAT, यानी अमेरिका को महान बनाए रखें।

अमेरिकी संसद की बिल्डिंग यूएस कैपिटल हिल पर जुटे ट्रम्प समर्थक। इन्होंने राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को रद्द करने की मांग की। बाद में सुरक्षाबलों ने इन्हें खदेड़ दिया।

अमेरिकी संसद की बिल्डिंग यूएस कैपिटल हिल पर जुटे ट्रम्प समर्थक। इन्होंने राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को रद्द करने की मांग की। बाद में सुरक्षाबलों ने इन्हें खदेड़ दिया।

पुलिस फोर्स ने ट्रम्प समर्थकों को रोकने की कोशिश की। बात नहीं बनी तो लाठी चलानी पड़ी। इसमें कुछ प्रदर्शनकारियों के सिर फूट गए।

पुलिस फोर्स ने ट्रम्प समर्थकों को रोकने की कोशिश की। बात नहीं बनी तो लाठी चलानी पड़ी। इसमें कुछ प्रदर्शनकारियों के सिर फूट गए।

कुछ समर्थक यूएस कैपिटल बिल्डिंग के बाजू में पाइप से बने अस्थायी ढांचे पर चढ़ गए। उस ढंके कपड़े को फाड़ दिया।

कुछ समर्थक यूएस कैपिटल बिल्डिंग के बाजू में पाइप से बने अस्थायी ढांचे पर चढ़ गए। उस ढंके कपड़े को फाड़ दिया।

कैपिटल हिल बिल्डिंग के बाहर जुटे ट्रम्प समर्थक। इन्होंने रिपब्लिकन पार्टी के झंडे के कलर की ड्रेस पहनी थी।

कैपिटल हिल बिल्डिंग के बाहर जुटे ट्रम्प समर्थक। इन्होंने रिपब्लिकन पार्टी के झंडे के कलर की ड्रेस पहनी थी।

ट्रम्प समर्थक 2020 के राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों से खफा हैं। इसमें ट्रम्प की हार हुई है।

ट्रम्प समर्थक 2020 के राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों से खफा हैं। इसमें ट्रम्प की हार हुई है।

यह अमेरिका के संसद भवन, यानी कांग्रेस की बिल्डिंग है। इस बिल्डिंग को यूएस कैपिटल हिल कहा जाता है। हजारों प्रदर्शनकारी इस पर चढ़ गए।

यह अमेरिका के संसद भवन, यानी कांग्रेस की बिल्डिंग है। इस बिल्डिंग को यूएस कैपिटल हिल कहा जाता है। हजारों प्रदर्शनकारी इस पर चढ़ गए।

सिक्युरिटी फोर्स ने पहले प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। नहीं माने तो लाठी चार्ज करना पड़ा।

सिक्युरिटी फोर्स ने पहले प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। नहीं माने तो लाठी चार्ज करना पड़ा।

प्रदर्शनकारी नहीं माने तो सुरक्षाकर्मियों को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।

प्रदर्शनकारी नहीं माने तो सुरक्षाकर्मियों को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।

सुरक्षाकर्मियों ने प्रदर्शनकारियों को पहले बैरिकेड लगाकर रोका, लेकिन प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़ दिए।

सुरक्षाकर्मियों ने प्रदर्शनकारियों को पहले बैरिकेड लगाकर रोका, लेकिन प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़ दिए।

मैरीलैंड के रिप्रेजेंटेटिव डेविड ट्रोन यूएस कैपिटल हिल बिल्डिंग में खुद को कुछ इस तरह मास्क से कवर किए नजर आए।

मैरीलैंड के रिप्रेजेंटेटिव डेविड ट्रोन यूएस कैपिटल हिल बिल्डिंग में खुद को कुछ इस तरह मास्क से कवर किए नजर आए।

ट्रम्प समर्थकों के हाथों में KEEP AMERICA GREAT लिखे बैनर थे।

ट्रम्प समर्थकों के हाथों में KEEP AMERICA GREAT लिखे बैनर थे।

कुछ ट्रम्प समर्थक यूएस कैपिटल हिल बिल्डिंग के अंदर तक पहुंच गए थे।

कुछ ट्रम्प समर्थक यूएस कैपिटल हिल बिल्डिंग के अंदर तक पहुंच गए थे।

ट्रम्प समर्थकों ने हंगामा और तोड़फोड़ शुरू की तो पुलिस ने मोर्चा संभाला। हंगामा करने वालों को हटाने के लिए संसद में पुलिसकर्मी रिवॉल्वर ताने नजर आए। इस दौरान सांसद सहमे रहे। उन्हें गैलरी के जरिए सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया।

ट्रम्प समर्थकों ने हंगामा और तोड़फोड़ शुरू की तो पुलिस ने मोर्चा संभाला। हंगामा करने वालों को हटाने के लिए संसद में पुलिसकर्मी रिवॉल्वर ताने नजर आए। इस दौरान सांसद सहमे रहे। उन्हें गैलरी के जरिए सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया।

अमेरिकी संसद की एक गैलरी में तैनात नेशनल गार्ड्स ने सांसदों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। इसके कुछ घंटे बाद संसद की कार्यवाही फिर शुरू हुई।

अमेरिकी संसद की एक गैलरी में तैनात नेशनल गार्ड्स ने सांसदों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। इसके कुछ घंटे बाद संसद की कार्यवाही फिर शुरू हुई।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *