पाकिस्तान में जानलेवा बना PUBG: गेम का सीन रीक्रिएट करते समय युवक ने अपने ही परिवार पर फायरिंग की, भाई-भाभी, बहन और दोस्त की मौत

  • Hindi News
  • International
  • In Pakistan, While Recreating The Scene Of PUBG, Firing On His Own Family, Death Of Brother in law, Sister And Friend

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पाकिस्तानएक घंटा पहले

पाकिस्तान की Ary News एजेंसी ने इस घटना का सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया मे शेयर किया है।

ऑनलाइन मल्टीप्लेयर गेम PUBG फिर जानलेवा साबित हुआ है। पाकिस्तान में लाहौर के नवां कोट में एक युवक ने इस गेम का सीन रीक्रिएट करते हुए अपने भाई-भाभी, बहन और दोस्त की हत्या कर दी। घटना सोमवार की है, लेकिन मीडिया में अब सामने आई।

PUBG स्टाइल में ही हेलमेट-जैकेट भी पहना
लाहौर के डीएसपी उमर बलूच ने बताया कि आरोपी का नाम राना बिलाल है। उसे PUBG खेलने की लत है। वह क्रिस्टल मेथ नाम की ड्रग भी लेता था। परिवार वाले उसे इन आदतों को छोड़ने के लिए मना करते थे तो उनसे झगड़ा करता था।

घटना से एक दिन पहले उसके भाई-भाभी ने उसे बुरी आदतें छोड़ने की नसीहत दी थी। इससे वह भड़क गया। इसके बाद वह कहीं से पिस्तौल खरीद लाया था। PUBG जैसा सीन रीक्रिएट करने के लिए गेम के कैरेक्टर की तरह हेलमेट और जैकेट पहनी। कमरे में दाखिल हुआ ओर फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से भाई-भाभी, बहन और एक दोस्त की मौके पर ही मौत हो गई। बीच, बचाव में पड़ोसी जख्मी हो गया।

आरोपी बिलाल ने PUBG जैसा सीन रीक्रिएट करने के लिए गेम के कैरेक्टर की तरह हेलमेट और जैकेट पहनी। कमरे में दाखिल हुआ ओर फायरिंग शुरू कर दी। -सिम्बॉलिक इमेज

गोलियां खत्म नहीं होतीं तो रोकना मुश्किल था
पड़ोसियों ने बताया कि आरोपी बिलाल पिस्तौल की गोलियां खत्म होने के बाद ही रुका। इसके बाद उन्होंने उसे पकड़ने की हिम्मत की। पुलिस को फोन किया और जमीन पर गिरे पड़े परिवार के लोगों को अस्पताल पहुंचाया। इनमें से 4 को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। Ary News ने इस घटना का CCTV फुटेज भी सोशल मीडिया पर शेयर किया, जिसमें आरोपी फायरिंग करता नजर आ रहा है।

इमरान सरकार ने 20 दिन में ही हटा लिया था PUBG से बैन
पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने पिछले साल 17 जुलाई को PUBG को बैन कर दिया था। सरकार का आरोप है कि यह गेम इस्लाम विरोधी है। हालांकि, करीब 10 दिन बाद ही यह बैन हटा लिया था। बताया गया कि कंपनी से गेमिंग प्लेटफॉर्म का दुरुपयोग नहीं करने का आश्वासन दिया है।

पहले भी गेम को बैन कर चुकी है पाकिस्तान सरकार
पाकिस्तान सरकार ने 2013 में कॉल ऑफ ड्यूटी और मेडल ऑफ ऑनर गेम पर बैन लगाया था। तब यह कहा गया था कि इन गेम्स में पाकिस्तान को आतंकियों को पनाह देता है।

कितना बड़ा है पबजी का साम्राज्य?
साल 2000 में जापान में एक फिल्म आई थी ‘बैटल रॉयल’। इस फिल्म में सरकार 100 स्टूडेंट्स को जबरन मौत से लड़ने भेज देती है। इसी फिल्म से प्रभावित होकर ये गेम बनाया गया है। इस गेम को एक साथ 100 लोग भी खेल सकते हैं और एक-दूसरे को तब तक मारते रहते हैं, जब तक कि उनमें से सिर्फ एक न बचा रह जाए।

इस गेम को दक्षिण कोरियाई कंपनी ब्लूहोल ने बनाया था। लेकिन, ब्लूहोल ने इसका सिर्फ डेस्कटॉप और कंसोल वर्जन ही बनाया था। मार्च 2018 में चीनी कंपनी टेंसेंट ने इसका मोबाइल वर्जन भी उतार दिया।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *