फरवरी में बिक्री के अनुमानित आंकड़े: पैसेंजर और ट्रैक्टर की बिक्री में तेजी रहेगी, हैवी डिस्काउंट के बावजूद टू-व्हीलर्स में लोगों का रुझान कम

  • Hindi News
  • Tech auto
  • February 2021 Automobile Sales Estimate; 2W Demand Continues To Remain Subdued; PVs Tractors To Perform Better

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली21 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • अर्थव्यवस्था में रिकवरी से कमर्शियल वाहनों की डिमांड में भी तेजी आई
  • कीमतों में बढ़ोतरी और वेडिंग सीजन में देरी के कारण टू-व्हीलर की मांग कम हुई

फरवरी 2021 में वाहनों की बिक्री में काफी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि एक ओर जहां टू-व्हीलर की डिमांड में तेजी बनी हुई है, वहीं दूसरी ओर सप्लाई ने कमी के बावजूद पैसेंजर व्हीकल्स और ट्रैक्टर की मांग भी बढ़ रही है।

ब्रोकरेज फर्म निर्मल बंग ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि सप्लाई की समस्या को दूर करने के लिए पैसेंजर वाहनों के डीलरों ने 8 से 10 दिन की इन्वेंट्री बनाए रखी। टूव्हीलर्स के मामले में डिस्काउंट बढ़ाने के बावजूद डिमांड में कम रही, खासतौर से एंट्री लेवल सेगमेंट में। बजाज ने इन्वेंट्री 4-6 सप्ताह के लिए बनाई रखी जबकि हीरो मोटोकॉर्प के लिए 2 महीने तक की इन्वेंट्री बनाए रखी।

पैसेंजर व्हीकल: मांग में बढ़ोतरी और लो चैनल इन्वेंट्री की बदौलत पैसेंजर व्हीकल की मांग में सालाना वृद्धि रहने की उम्मीद है। डीलर्स ने बताया कि ओवरऑल रिटेल बिक्री में तेजी रही और ऑडर्स भी काफी मिल रहे हैं। इन्वेंट्री लेवल 8-10 दिनों तक का रहा। इसलिए, अधिकांश मारुति मॉडलों के लिए वेटिंग पीरियड बढ़कर 1-2 महीने हो गया। पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी के कारण सीएनजी मांग बढ़ी। ऐसे में डीलरों ने सीएनजी मॉडलों के लिए हाई वेटिंग पीरियड रखा। महिंद्रा, हुंडई और टाटा मोटर्स में भी लंबा वेटिंग पीरियड मिल रहा है।

टू-व्हीलर: कीमतों में बढ़ोतरी और वेडिंग सीजन में देरी के कारण टूव्हीलर की मांग कम हुई है। हीरो, बजाज और टीवीएस की एंट्री लेवल मोटरसाइकिलों के लिए छूट में 2-5 हजार रुपए तक की वृद्धि हुई है। कुल मिलाकर टू-व्हीलर्स की होलसेल बिक्री इन्वेंट्री फिलिंग के कारण, रिटेल से अधिक रहने की उम्मीद है। निर्यात बाजारों से मजबूत मांग के कारण टू-व्हीलर निर्यात में तेजी बनी रहने की उम्मीद है।

ट्रैक्टर: अन्य सेगमेंट की तुलना में ट्रैक्टर की बिक्री में तेजी बनी रहने की उम्मीद है, क्योंकि अच्छी रबी की बुवाई के कारण मांग लगातार बनी हुई है।

कमर्शियल व्हीकल: अर्थव्यवस्था तेजी से रिकवरी कर रही है। इंफ्रा और माइनिंग सेक्टर्स में दोबारा पहले जैसी तेजी के साथ काम शुरू हो गया है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि कमर्शियल वाहनों की बिक्री में तेजी बनी रहने की उम्मीद है।

फरवरी 2021 में वाहनों की अनुमानित बिक्री

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *