बर्फ हटाने में जुटी BRO: श्रीनगर-सोनमर्ग और मनाली लेह-मार्ग 2 माह पहले खोलने की तैयारी, इससे लद्दाख में तैनात सेना की टुकड़ी को आवाजाही का बेहतर विकल्प मिलेगा

  • Hindi News
  • National
  • Preparations To Open Srinagar Sonamarg And Manali Leh Marg 2 Months In Advance, This Will Provide A Better Option Of Movement To Army Troops Stationed In Ladakh

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जम्मू2 मिनट पहलेलेखक: मोहित कंधारी

  • कॉपी लिंक

इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब इसे समय से दो-तीन महीने पहले 6 मार्च को खोल भी दिया गया। बीआरओ के डीजी बताते हैं कि बीते साल ऐसे जोखिम भरे प्रोजेक्ट से जुड़े 200 से ज्यादा लोगों को जान गंवानी पड़ी। 

  • निर्माण कार्य और बर्फ हटाने के दौरान BRO से जुड़े 200 से ज्यादा लोगों ने जान गंवाई
  • दो बर्फीले तूफानों का सामना, तीसरे प्रयास में टीम पोजिशन पर पहुंच सकी

बीआरओ कश्मीर और लद्दाख में रणनीतिक रूप से अहम राजमार्गों से बर्फ हटाने और नए मार्ग और ब्रिज बनाने के लिए दिन-रात काम कर रही है। इस कड़ी में सामरिक रूप से अहम श्रीनगर-सोनमर्ग और गुमरी और मनाली-लेह मार्ग से बर्फ हटाने का काम शुरू कर दिया है।

यह रोड दुनिया के सबसे ऊंचे दर्रों से होकर गुजरती है। इसके खुलने से लद्दाख में तैनात सेना की टुकड़ी को आवाजाही का बेहतर विकल्प मिलेगा। बीआरओ के डायरेक्टर जनरल ने बताया कि बीते साल यह मार्ग 18 मई को खोला गया था, जो 2019 की तुलना में एक महीना पहले था।

इस वर्ष हम बीते साल की तुलना में दो महीने पहले खोलने के लक्ष्य पर काम कर रहे हैं। सारी लॉजिस्टिक तैयारियां हो चुकी है और बर्फ हटाने के लिए सारे संसाधन उचित स्थान पर तैनात हैं। दो बार बर्फीले तूफान में फंसने के बाद तीसरे प्रयास में 15 से 20 फीट ऊंचे बर्फीले रास्तों से गुजरते हुए टीम ने 2 दिन में 20 किमी की यात्रा पूरी की।

बीआरओ ने लद्दाख की लाइफलाइन जोजिला-करगिल और लेह राजमार्ग को चुनौतियों के बावजूद बीते साल 31 दिसंबर तक चालू रखा, ऐसा इतिहास में पहली बार हुआ। अब इसे समय से दो-तीन महीने पहले 6 मार्च को खोल भी दिया गया। बीआरओ के डीजी बताते हैं कि इस काम के जोखिम का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि बीते साल ऐसे जोखिम भरे प्रोजेक्ट से जुड़े 200 से ज्यादा लोगों को जान गंवानी पड़ी।

तीन परियोजनाओं के तहत 1550 किमी लंबी सड़क से बर्फ हटाने का काम जारी

बीकन प्रोजेक्टः कश्मीर को लद्दाख से जोड़ने वाली जवाहर टनल से बर्फ हटाने का काम करता है। यही जम्मू-श्रीनगर, श्रीनगर-सोनमर्ग-गुमरी-लेह, बारामुला-कुपवाड़ा-चौकीबल-तंगधर को जोड़ने वाले राष्टीय राजमार्ग पर काम करता है।

विजयक प्रोजेक्टः 983 किमी लंबी रोड जो लद्दाख में लेह और करगिल को जोड़ता है। इसमें 371 किमी मार्ग से बर्फ हटाई जा रही है।

प्रोजेक्ट हिमंकः कारू-तांग्शे, होरोंग चुसुल, उपशी-सारचू के साथ डि-एस-डीबीओ से बर्फ हटा रहा है।

सरहदी इलाकों में इस साल 8 ब्रिज तैयार हो जाएंगे

आने वाले सालों में इंडो-चाइना बार्डर पर डी-एस-डीबीओ रोड, फोबरांग, मर्शिमी कलां, हाटस्प्रिंग, चिशुंम्ले-डैमचॉक रोड जैसे अहम मार्गों पर बीआरओ रोड, ब्रिज तैयार करेगा। इनमें से श्रीनगर-सोनमर्ग और गुमरी रोड को जोड़ने वाला सोनमर्ग बाइपास ब्रिज जल्द तैयार होगा। इस साल जोजिला कारगिल-लेह धुरी पर 6 बड़े पुल बन जाएंगे।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *