मन स्वस्थ तो शरीर स्वस्थ: डायबिटीजनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ का दावा- मन स्वस्थ तो शरीर स्वस्थ, खुश रहने से 5 तरह की बीमारियों के खतरे कम रहते हैं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

2 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

डायबिटीजनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार अगर व्यक्ति मन से खुश है तो 5 तरह की बीमारियों के खतरे कम होते हैं। (सिम्बॉलिक इमेज)

1) डायबिटीजनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार तनाव या खराब मानसिक स्वास्थ्य से शरीर में कार्टिसोल और एड्रेनालाइन हार्मोन बनते हैं। ये हार्मोन व्यक्ति को विपरीत परिस्थितियों से लड़ने के लिए तैयार करते हैं। लेकिन लगातार तनाव और इन हार्मोन्स से ब्लड शुगर बढ़ता है।

बचाव- अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन के अनुसार रोज 1 लीटर या इससे अधिक पानी पीने वालों में डायबिटीज का खतरा उन लोगों की तुलना में 28 फीसदी तक कम होता है जो रोज आधा लीटर पानी पीते हैं।

2) दिल की बीमारीसेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार लंबे समय तक एंग्जाइटी, तनाव से शरीर पर मनोवैज्ञानिक प्रभाव पड़ता है। इससे हृदय तक पहुंचने वाला रक्त प्रवाह कम हाेता है। धड़कनें बढ़ती हैं। धमनियों में कैल्शियम जमा होने लगता है। दिल की बीमारी का खतरा बढ़ता है।

बचाव- यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार हफ्ते में तीन बार साबुत अनाज जैसे ओट्स, ब्राउन राइस, जौ आदि से बने खाद्य पदार्थ से दिल की बीमारी का खतरा 22 फीसदी तक कम हो जाता है।

3) कमजोर इम्युनिटी

मेयो क्लीनिक के अनुसार खराब मानसिक सेहत के दौरान रक्त में कोलेस्ट्राल का स्तर बढ़ता है। इससे हार्मोन एड्रेनालाइन और नॉरएड्रेनालाइन के कारण फैटी एसिड बनता है। यह कोलेस्ट्राॅल कणों के साथ मिलकर खून के थक्के जमाने लगता है। खून में ऑक्सीजन कम होने लगती है। आपकी इम्युनिटी कमजोर हो जाती है।

बचाव – नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार तनाव इम्युनिटी को सर्वाधिक प्रभावित करता है। कपाल भाती (सांस लेते वक्त पेट को फुलाना और सांस छोड़ते वक्त पेट को पिचकाना) के जरिए तनाव को कम कर, इम्युनिटी को कमजोर होने से बचाया जा सकता है। साइकिलिंग इम्युनिटी बढ़ाती है। इससे टी-सेल्स शरीर में बनते हैं, जो शरीर को मौसम और बीमारियों से लड़ने की ताकत देते हैं।

4) कैंसरतनाव से युवाअवस्था में कैंसर, ब्रेन और रेसिपिरेटरी ट्यूमर होने की आशंका बढ़ जाती है। शोध के अनुसार खराब मानसिक स्वास्थ्य से स्माेकिंग और शराब की लत ज्यादा पड़ती है। इससे मुंह, गला और फेफड़ों के कैंसर होने का खतरा सर्वाधिक होता है।

बचाव – अमेरिकन कैंसर सोसायटी के अनुसार यदि सप्ताह में 5 बार 30 मिनट वॉक की जाए और आपकी रफ्तार हो 5 किमी प्रति घंटा तो इससे आप 13 तरह के कैंसर से बच सकते हैं। वॉक सेहत बनाने का सबसे सरल तरीका है।

5) हाई/लो ब्लड प्रेशर

नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के अनुसार स्ट्रेस हार्मोन एपिनेफ्रीन और नोरपिनेफ्रिन शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक दबाव को कम करते हैं, लेकिन ये हार्मोन्स रक्त वाहनियाें में सिकुड़न लाते हैं, जिसके कारण ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। यह स्थायी समस्या बन जाता है।

बचाव – हाई ब्लड प्रेशर है तो खाने में पोटेशियम की मात्रा बढ़ानी चाहिए। जैसे दूध, दही, मछली केला, आलू, टमाटर, पालक जैसी सब्जियां। इससे रक्तवाहिकाओं पर दबाव कम होता है। इसी तरह डार्क चॉकलेट खाने से भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या नियंत्रित होती है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *