हम आज जो कुछ भी हैं, वो हमने अभी तक जो सोचा है, इस बात का ही परिणाम है, अगर कोई व्यक्ति बुरी सोच के साथ काम करता है तो उसे दुख ही मिलते हैं

  • Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Dharm
  • Quotes Of Buddha, Gautam Buddha Quotes In Hindi, Motivational Quotes Of Gautam Buddha, Inspirational Tips In Hindi

9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • बुद्ध अपने उपदेशों में क्रोध, अहंकार, लोभ, शत्रुता छोड़ने की बात कहते थे, इनके प्रवचनों का सार यही है कि इन बुराइयों को छोड़ने के बाद ही जीवन में शांति मिल सकती है

गौतम बुद्ध का जन्म नेपाल के लुंबिनी में 563 ईसा पूर्व हुआ था। बुद्ध का प्रारंभिक नाम सिद्धार्थ था। एक दिन सिद्धार्थ आत्म ज्ञान प्राप्ति के लिए माता-पिता, पत्नी और पुत्र को छोड़कर जंगल में चले गए थे। कई वर्षों के कठोर तप के बाद बोध गया के बोधी वृक्ष के नीचे दिव्य ज्ञान प्राप्त हुआ। इसके बाद वे गौतम बुद्ध बन गए।

गौतम बुद्ध रोज अपने शिष्यों को उपदेश देते थे। बुद्ध की ज्ञान की बातें सुनने काफी लोग आते थे। बुद्ध अपने प्रवचनों में क्रोध, अहंकार, लोभ, शत्रुता छोड़ने की बात कहते थे। बुद्ध के प्रवचनों का सार यही था कि इन बुरी बातों को छोड़े बिना जीवन में शांति नहीं मिल सकती है। जानिए बुद्ध के कुछ खास विचार, जिन्हें अपनाने से हमारी समस्याएं खत्म हो सकती हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *