3700 करोड़ के बैंक फ्रॉड: CBI ने 11 राज्यों में 100 ठिकानों पर छापे मारे; जयपुर, भोपाल और अहमदाबाद में भी कार्रवाई

  • Hindi News
  • National
  • CBI Raids 100 Places In 11 States In Cases Of Bank Fraud Worth 3,700 Crores

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
CBI ने दिल्ली, मुंबई, श्रीगंगानगर, वडोदरा, राजकोट में भी छापे मारे। बैंक फ्रॉड से जुड़ी 30 FIR को लेकर यह कार्रवाई की गई।- फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar

CBI ने दिल्ली, मुंबई, श्रीगंगानगर, वडोदरा, राजकोट में भी छापे मारे। बैंक फ्रॉड से जुड़ी 30 FIR को लेकर यह कार्रवाई की गई।- फाइल फोटो।

सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (CBI) ने गुरुवार को 11 राज्यों की 100 लोकेशन पर छापे मारे। इनमें जयपुर, भोपाल और अहमदाबाद भी शामिल हैं। ये कार्रवाई 3,700 करोड़ रुपए के बैंक फ्रॉड मामलों में की गई। इन फ्रॉड को लेकर देशभर में 30 FIR दर्ज हुई हैं।

CBI के स्पॉक्सपर्सन आर सी जोशी ने बताया कि देश की अलग-अलग बैंकों से मिली शिकायतों के आधार पर फ्रॉड करने वालों के खिलाफ स्पेशल ड्राइव के तहत यह छापे मारे गए हैं। शिकायत करने वाले बैंकों में इंडियन ओवरसीज बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, PNB, SBI, IDBI, केनरा बैंक, इंडियन बैंक और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया भी शामिल हैं।

इन बैंकों की शिकायतों के आधार पर कानपुर, दिल्ली, गाजियाबाद, मथुरा, नोएडा, गुड़गांव, चेन्नई, तिरुवरुर, वेल्लोर, तिरुपुर, बेंगलुरु, गुंटूर, हैदराबाद, बल्लारी, वडोदरा, कोलकाता, पश्चिम गोदावरी, सूरत, मुंबई, भोपाल, निमाडी, तिरुपति, विशाखापट्टनम, अहमदाबाद, राजकोट, करनाल, जयपुर और श्रीगंगानगर में रेड मारी गई।

फर्जी दस्तावेजों से लोन लेकर डिफॉल्ट कर रही हैं कंपनियां
CBI के स्पॉक्सपर्सन जोशी ने बताया कि CBI को अलग-अलग बैंकों की तरफ से धोखाधड़ी, फंड डायवर्जन और फर्जी दस्तावेज इस्तेमाल करने की शिकायतें मिल रही हैं। ये शिकायतें लोन लेने में फर्जीवाड़ा और डिफॉल्ट करने वाली फर्मों के खिलाफ हैं। इन पर आरोप हैं कि ये फर्में फर्जीवाड़ा कर लोन लेती हैं और फिर पेमेंट में डिफॉल्ट करती हैं। इससे सरकारी बैंकों का नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स (NPA) बढ़ता है और उन्हें भारी नुकसान होता है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *