Ankita’s medical pupil Ankita’s musical marketing campaign has been a success, giving face protect and PPE package to well being employees with this quantity | उड़िसा की मेडिकल स्टूडेंट अंकिता का म्युजिकल कैंपेन रहा हिट, इस राशि से हेल्थ वर्कर्स को दे रहीं फेस शील्ड और पीपीई किट

  • Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • Ankita’s Medical Pupil Ankita’s Musical Marketing campaign Has Been A Hit, Giving Face Defend And PPE Equipment To Well being Employees With This Quantity

11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • दो महीनों से अंकिता सोशल मीडिया पर ”ध्वनि” के नाम से एक अभियान चला रही हैं।
  • अंकिता ने वीडियोज पर कस्टमर के फोटो भी लगाए ताकि पर्सनल टच मिल सके।

कोरोना काल में आए दिन ऐसे उदाहरण सामने आ रहे हैं जब लोग एक दूसरे की मदद कर मिसाल कायम कर रहे हैं। युवाओं के लिए ऐसी ही मिसाल पेश की है उड़िया गर्ल अंकिता मिश्रा ने। अंकिता भारतीय विद्यापीठ मेडिकल कॉलेज पुणे की स्टूडेंट हैं।

उन्होंने अपने आठ दोस्तों के साथ मिलकर एक म्युजिकल कैंपेन की शुरुआत की है। इस अभियान के तहत इकट्‌ठे हुए पैसों का उपयोग वे हेल्थ वर्कर्स के लिए पीपीई किट और फेस शील्ड खरीदने में कर रही हैं।

हेल्थ वर्कर्स को फायदा मिल सके

पिछले दो महीनों से अंकिता सोशल मीडिया पर ”ध्वनि” के नाम से एक अभियान चला रही हैं। इसके लिए उन्होंने एक फंड जमा करने वाले ई प्लेटफॉर्म ”केटो” को चुना है। इसमें लीड सिंगर खुद अंकिता हैं।

उन्होंने अपने कॉलेज बैंड के मेंबर्स की भी मदद ली है ताकि उनके प्रयासों से कोरोना काल में लोगों की सेवा के लिए काम कर रहे हेल्थ वर्कर्स को फायदा मिल सके।

लोगों के आग्रह पर ही बनाया गया है

अंकिता ने 60 से अधिक अलग-अलग भाषाओं वाले मशहूर गानों के वीडियोज सोशल मीडिया के जरिये लोगों तक पहुंचाए हैं। इन वीडियो को लोगों के आग्रह पर ही बनाया गया है।

अगर कोई लड़की अपने प्रेमी को फेवरेट गानों का वीडियो भेजना चाहती है तो उसे अंकिता अपने दोस्तों के साथ मिलकर वो गाने भेजती हैं। इसके एवज में वे एक कस्टमर से 55 रुपए लेती हैं। इतने पैसों में एक फेस शील्ड आ जाती है।

दूसरों को खुश करने में खुशी मिलती है

अंकिता को पहला डोनेशन उनके कॉलेज के एक स्टूडेंट की तरफ से ही मिला था। जिसे वे अपने लिए खास मानती हैं। अंकिता के ऐसे कई कॉलेज फ्रेंड्स हैं जिनके घर में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने की वजह से वे अपनों से ही दूर रह हैं।

इन दोस्तों का अकेलापन और फिक्र दूर करने के लिए भी अंकिता ने इनकी पसंद के गानों का वीडियो बनाकर उन्हें दिया है। इस तरह से दूसरों को खुश करने में उन्हें खुशी मिलती है।

कस्टमर के फोटो लगाए

अंकिता ने अपने अभियान की शुरुआत दो महीने पहले एक दोस्त वाणी घई के साथ मिलकर की। धीरे-धीरे उन्होंने अपने प्रोजेक्ट में उन दोस्तों को भी शामिल किया जो अन्य शहरों में रह रहे थे। उन्होंने म्युजिकल कवर बनाने में भी काफी मेहनत की।

लोगों को अपने वीडियोज के प्रति आकर्षित करने के लिए अंकिता ने उन वीडियोज पर कस्टमर के फोटो लगाए ताकि वीडियोज को पर्सनल टच मिल सके। वे यह भी कहती हैं कि लॉकडाउन मेमोरी के तौर पर ये भी इस तरह के वीडियोज लोग संभालकर रख सकते हैं।

जारी रखने के लिए प्रोत्साहित किया

अपने अभियान के जरिये पहले दिन अंकिता ने 28,000 रुपए जमा किए। इसी तरह अन्य दिनों में भी उनका कलेक्शन बढ़ा जिसने इस अभियान को जारी रखने के लिए उन्हें प्रोत्साहित किया। उनके हर वीडियो पर 3,000 से अधिक व्यूज आते हैं।

इन पैसों को जमा कर अंकिता ने कर्नाटक सरकार को हेल्थकेयर वर्कर्स के ट्रेनिंग सेशन के लिए 300 फेस शील्ड उपलब्ध कराई हैं।

अंकिता ने ग्रेटर मुंबई म्युनिसिपल कमिशन हेल्थ केयर के डॉक्टर्स के लिए 1000 पीपीई किट सप्लाय की हैं। अब तक वे 300 पीपीई किट कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मणिपाल को दे चुकी हैं। फिलहाल वे 500 पीपीई किट कोविड आइसोलेशन वार्ड, पालघर के लिए प्लान कर रही हैं।

0

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *