Sushant Singh Case; Rhea Chakraborty Plea Supreme Court docket Listening to At the moment Newest Information Updates | केंद्र ने सीबीआई जांच का आदेश दिया, ईडी ने एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती को 7 अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया

मुंबई5 घंटे पहले

रिया चक्रवर्ती और सुशांत सिंह राजपूत मुंबई के बांद्रा इलाके में एक ही फ्लैट में रहते थे। दोनों मई 2019 से साथ थे। (फाइल फोटो)

  • सुशांत मामले की सीबीआई जांच होगी, केंद्र ने बिहार सरकार की सिफारिश मंजूर की
  • सुप्रीम कोर्ट ने रिया की केस ट्रांसफर की अपील पर सुनवाई की, कहा- टैलेंटेड आर्टिस्ट चला गया

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में बुधवार को काफी अहम मोड़ आए। केंद्र ने इस मामले की सीबीआई जांच का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। उधर, ईडी इस मामले में शुक्रवार को रिया चक्रवर्ती से पूछताछ करेगी।

सुप्रीम कोर्ट ने रिया को प्रोटेक्शन देने से इनकार कर दिया

इससे पहले एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने कहा, ‘एक गिफ्टेड और टैलेंटेड आर्टिस्ट चला गया। असामान्य हालात में उनकी मौत हुई। सच्चाई सामने आनी चाहिए।’ बिहार पुलिस के केस में सुप्रीम कोर्ट ने रिया को प्रोटेक्शन देने से भी मना कर दिया। बिहार पुलिस की टीम रिया से पूछताछ करने मुंबई गई है, लेकिन रिया सामने नहीं आ रहीं।

सुशांत के पिता ने पिछले महीने पटना में रिया के खिलाफ केस दर्ज करवाया था। रिया ने इस केस को मुंबई ट्रांसफर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपील की है। सुप्रीम कोर्ट ने बिहार, महाराष्ट्र सरकार और सुशांत के पिता से Three दिन में जवाब मांगा। अगले हफ्ते फिर सुनवाई होगी।

बिहार के अफसर को क्वारैंटाइन करने से अच्छा मैसेज नहीं गया: कोर्ट
महाराष्ट्र सरकार ने कोर्ट में कहा कि सुशांत मामले की जांच पटना पुलिस के दायरे में नहीं आती, न ही वहां एफआईआर हो सकती है। यह राजनीतिक मामला बना दिया गया है। दूसरी तरफ सुशांत के पिता के वकील ने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस सबूत मिटा रही है। कोर्ट ने कहा कि बिहार पुलिस के अफसर को क्वारैंटाइन करने से अच्छा मैसेज नहीं गया, भले ही महाराष्ट्र पुलिस की प्रोफेशनल रेपुटेशन अच्छी हो।

इस बीच सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट में बताया कि बिहार सरकार की सीबीआई जांच की सिफारिश केंद्र ने मंजूर कर ली है। सुप्रीम कोर्ट में रिया की याचिका पर बिहार और महाराष्ट्र सरकारों ने कैविएट फाइल की थी। सुशांत के पिता कृष्ण किशोर सिंह ने भी कैविएट लगाई थी, ताकि उनका पक्ष जाने बिना रिया की अर्जी पर कोई फैसला नहीं सुनाया जा सके।

अपडेट्स
सुशांत की मैनेजर रहीं दिशा सालियान की मौत के मामले की सीबीआई जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका (पीआईएल) फाइल की गई है। पिटीशनर का कहना है कि कोर्ट की निगरानी में सीबीआई जांच होनी चाहिए। सुशांत और दिशा की मौत के मामलों की कड़ियां जुड़ी हुई हैं।

रिया फरार है: बिहार पुलिस
डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे का कहना है कि रिया हमारे संपर्क में नहीं, वह फरार है। वह सामने नहीं आ रही। हमें यह भी पता नहीं कि वह मुंबई पुलिस के कॉन्टैक्ट में भी है या नहीं। हमने बीएमसी से कहा है कि हमारे आईपीएस अफसर विनय तिवारी को क्वारैंटाइन से निकाला जाए। बीएमसी का रवैया प्रोफेशनल नहीं है। हमारे अफसर को ऐसे रखा जा रहा है मानो गिरफ्तार किया गया हो।

रिया पर आरोप- सुशांत को ब्लैकमेल किया
सुशांत के पिता ने 26 जुलाई को पटना के राजीव नगर पुलिस स्टेशन में रिया और उनके परिवार के Three सदस्यों और 2 मैनेजरों के खिलाफ केस दर्ज करवाया था। उन्होंने पैसे वसूलने, ब्‍लैकमेल करने, आत्महत्या के लिए उकसाने और प्रताड़ना के आरोप लगाए थे। पटना पुलिस ने चार पुलिस अफसरों की टीम बनाकर मुंबई भेजी है।

मुंबई के डीसीपी ने कहा- सुशांत के रिश्तेदार आईपीएस ने रिया पर दबाव डालने को कहा था
डीसीपी परमजीत सिंह दहिया ने टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘हरियाणा पुलिस के सीनियर आईपीएस ओपी सिंह जो कि सुशांत के जीजा हैं, उन्होंने फरवरी में कहा था कि रिया पर दबाव डालकर सुशांत से रिलेशनशिप खत्म करवाएं। उन्होंने 18 और 25 फरवरी को वॉट्सऐप पर इनफॉर्मल रिक्वेस्ट की थी। मैंने उनसे कहा था कि इस तरह किसी को पुलिस स्टेशन बुलाकर हिरासत में नहीं रख सकते। आप लिखित शिकायत दीजिए, उसके आधार पर जांच की जाएगी।

तेजप्रताप का महाराष्ट्र सरकार पर हमला

सुशांत मामले से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं…

1. सुशांत मामले में बिहार सरकार ने की सीबीआई जांच की सिफारिश, रिया के वकील ने कहा- यह गलत तरीका

2. बिहार के डीजीपी का बड़ा हमला- 4 साल में सुशांत के खाते में 50 करोड़ रुपए जमा हुए थे, मुंबई पुलिस ने यह पैसा निकाले जाने की जांच क्यों नहीं की?

3. एफआईआर दर्ज होने के बाद रिया चक्रवर्ती का पहला रिएक्शन, रोते हुए हाथ जोड़कर बोलीं- मुझे न्याय व्यवस्था पर भरोसा

0

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *