Sushant Suicide Case: BMC turns down demand of Bihar DGP, says if inquiry is to be accomplished, use digital medium | बीएमसी ने पटना एसपी को छोड़ने की मांग ठुकराई, कहा- अगर मुंबई से बाहर जाना है तो कोरोना टेस्ट करवाना होगा; पूछताछ के लिए डिजिटल माध्यम का इस्तेमाल करें

  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Sushant Suicide Case: BMC Turns Down Demand Of Bihar DGP, Says If Inquiry Is To Be Executed, Use Digital Medium

मुंबई6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पटना के एसपी विनय तिवारी गोरेगांव के एक गेस्ट हाउस में क्वारैंटाइन किए गए हैं।

  • सुशांत सुसाइड केस की जांच करने आए आए पटना एसपी विनय तिवारी को 14 दिनों के लिए क्वारैंटाइन कर दिया था
  • बीएमसी ने कहा- केस में पूछताछ के लिए बिहार पुलिस के लोग जूम, गूगल मीट, जियो मीट जैसे ऐप यूज करें

पटना के आईजी ने three अगस्त को मुंबई में बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) कमिश्नर इकबाल सिंह चहल को एक पत्र लिखकर लॉकडाउन नियम में छूट का आग्रह किया था और क्वारैंटाइन किए गए एसपी विनय तिवारी को मुक्त करने को कहा था। इस मांग को ठुकराते हुए बीएमसी ने एक पत्र जारी किया है।

बीएमसी की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि कोरोना के इस संकट काल में मुंबई बुरी तरह से प्रभावित है और अगर बिहार पुलिस को इस मामले में कोई पूछताछ करनी है तो वे डिजिटल माध्यम का इस्तेमाल कर लोगों के बयान ले सकते हैं। बीएमसी ने सलाह दी है कि बिहार पुलिस से पूछताछ के लिए जूम, गूगल मीट, जियो मीट, माइक्रोसॉफ्ट टीम्स या अन्य डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर सकती है।

डिजिटल माध्यम के इस्तेमाल से कोरोना नहीं फैलेगा
सुशांत की मौत मामले की जांच कर रहे बिहार पुलिस के दल की अगुवाई करने रविवार को मुंबई पहुंचे आईपीएस तिवारी को बीएमसी ने 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन में भेज दिया था। इस मामले पर बिहार पुलिस के पत्र के जवाब में बीएमसी के अतिरिक्त निगम आयुक्त पी वेलरासू के एक पत्र जारी किया। इसमें कहा है कि “डिजिटल प्लेटफॉर्म के इस्तेमाल से न तो अधिकारी उन अधिकारियों को संक्रमण फैला सकेंगे जिनसे वह मिल रहे हैं (यदि वह बिहार से संक्रमित होकर आए होंगे तो)। न ही वह खुद भी मुंबई में महाराष्ट्र सरकार के अनेक अधिकारियों से मुलाकात के दौरान संक्रमित होंगे।” बीएमसी ने कहा कि तिवारी को महाराष्ट्र सरकार के सभी नियम और शर्तों का पालन करना चाहिए।

बिना कोरोना टेस्ट के मुंबई नहीं छोड़ सकते विनय तिवारी
बीएमसी ने कहा कि अगर पटना के एसपी विनय तिवारी को क्वारैंटाइन पूरा होने से पहले मुंबई छोड़ना है तो उन्हें कोरोना का टेस्ट कराना होगा। अगर वह निगेटिव पाए जाते हैं तब ही उन्हें जाने की इजाजत होगी।

बिहार पुलिस जाएगी कोर्ट
विनय तिवारी को क्वारैंटाइन से छूट देने के लिए बिहार पुलिस कोर्ट जाएगी। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट से फटकार मिलने के बावजूद बीएमसी विनय तिवारी को छोड़ नहीं रही है। विनय तिवारी को छोड़ने के लिए पटना के आईजी ने मुंबई पुलिस से बात भी की, लेकिन फिर भी विनय तिवारी को क्वारैंटाइन से छूट नहीं मिली।

बिहार डीजीपी ने इस फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण बताया

0

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *